February 19, 2018
Advertisement
साहित्य

सर

तुझको अफ़सोस अगर है तो मुझे भी है ये, मैं तेरे शहर का किरदार नहीं हो पाया.

फ़क़ीराना तबीअत थी बहुत बेबाक लहजा था

मैं था जब कारवाँ के साथ तो गुलज़ार थी दुनिया मगर तन्हा हुआ तो हर तरफ़ सहरा ही सहरा था

जबीं को दर पे झुकाना ही बंदगी तो नहीं

ये हिज्र-ए-यार ये पाबंदियाँ इबादत की किसी ख़ता की सज़ा है ये ज़िंदगी तो नहीं

बढ़ रही है दिल की धड़कन आँधियों धीरे चलो

ये जो फूलों का नगर था इस में ही काँटों से अब भर गया हर एक आँगन आँधियों धीरे चलो

दूर तक छाए थे बादल और कहीं साया न था

अब खुला झोंकों के पीछे चल रही थीं आँधियाँ अब जो मंज़र है वो पहले तो नज़र आया न था

एडवेंचर वीडियो

आज का कार्टून

मध्यप्रदेश टूरिज्म

भारत का दिल कहा जाने वाला मध्य प्रदेश पूरे देश में अपनी खूबसूरती के लिए पहचाना जाता है। इसका हर एक कोना अपने आप में ही खास माना जाता है। यहां के हर टूरिस्ट स्पॉट पर आपको कुछ ना कुछ अनोखा और खूबसूरत देखने को जरूर मिलेगा। अगर आप भी एमपी में घूमने की सोच रहे हैं तो इन 10 टूरिस्ट स्पॉट पर जाना ना भूलें...