Powered By डॉ.राहुल रंजन
भोपाल

अमरकंटक से शुरु हुई नर्मदा सेवा यात्रा

अमरकंटक: मध्यप्रदेश के अमरकंटक से आज से नमामि देवी नर्मदे सेवा यात्रा की शुरुआत हो रही है, कार्यक्रम को सीएम शिवराज सिंह चौहान ने संबोधित किया। सीएम शिवराज ने अपने संबोधन की शुरुआत बचपन की यादों से की, उन्होंने बताया कि वो बचपन में कैसे नर्मदा नदी में घंटों नहाया करते थे। उन्होंने नर्मदा से माफ़ी मांगते हुए कहा कि हमने विकास के लिए धीरे-धीरे नर्मदा को खतरे में डाल दिया। 

दोनों तरफ़ पेड़ लगाएंगे

सीएम शिवराज ने कहा कि नर्मदा के दोनों तरफ़ फलदार पेड़ लगाए जाएंगे, ताकि नर्मदा का जलस्तर बढ़े और नदी का प्रवाह बना रहे। सीएम ने किसानों से कहा कि वो नर्मदा के किनारे अपने खेतों में फसलों की जगह फलदार पेड़ लगाएं, और आजीविका की चिंता ना करें।उन्होंने कहा कि जिन किसानों के खेत नर्मदा के किनारे हैं और जो अपने खेतों में फलदार पेड़ लगाएंगे सरकार उन्हें 20 हज़ार रुपये प्रति हैक्टेयर की सहायता देंगे। 

नालों का पानी साफ़ होगा

सीएम शिवराज ने कहा कि नर्मदा नदी में मिलने वाले गंदे नालों के पानी को ट्रीटमेंट प्लांट के ज़रिए साफ़ किया जाएगा। इस साफ़ पानी को या तो खेतों में सिंचाई के तौर पर इस्तेमाल किया जाएगा, या फिर इसे साफ़ करके नर्मदा में डाला जाएगा। इसके साथ ही शिवराज ने कहा कि मुक्तिधान भी नर्मदा के किनारे बनाए जाएंगे ताकि नर्मदा का जल प्रदूषित ना हो।

अमरकंटक बनेगा तीर्थ

शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि वो सभी संतों के सामने वादा करते हैं कि नर्मदा नदी के उद्गन स्थल अमरकंटक को देश के सबसे खूबसूरत तीर्थ के तौर पर विकसित करेंगे। शिवराज ने कहा कि इसके लिए उन्हें अमरकंटक के लोगों के सहयोग की ज़रूरत है।

यात्रा में सभी लोग आएं 

सीएम शिवराज ने कहा कि सभी लोग नमामि देवी नर्मदे सेवा यात्रा में शिरकत करें और लोगों को नर्मदा के संरक्षण के लिए जागरुक करें। उन्होंने कहा कि वो खुद भी इस यात्रा में सप्ताह में एक बार ज़रूर शिरकत करेंगे। उन्होंने कहा कि हालांकि मुख्यमंत्री के तौर पर व्यस्तता है पर फिर भी वो कोशिश करेंगे कि दो से तीन दिन भी वो यात्रा में जरूर आएं।

उन्होंने कहा कि उनका मन भी यात्रा से दूर रहकर नहीं लगेगा। 

Share |