क्रिकेट - 23 September, 2019

मैच फिक्सिंग पर सुनील गावस्कर का बड़ा बयान, कहा-इसे पूरी तरह रोकना मुश्किल

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर का मानना है कि क्रिकेट में मैच फिक्सिंग पर पूरी तरह से काबू पाना मुश्किल है. ऐसा इसलिए क्योंकि हमेशा कोई न कोई लालच में ऐसा करने के लिए तैयार रहेगा और लालच का कोई इलाज नहीं है. #cricket #matchfixing

नई दिल्ली. भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar) का मानना है कि क्रिकेट में मैच फिक्सिंग (Match Fixing) पर पूरी तरह से काबू पाना मुश्किल है. ऐसा इसलिए क्योंकि हमेशा कोई न कोई लालच में ऐसा करने के लिए तैयार रहेगा और लालच का कोई इलाज नहीं है. तमिलनाडु प्रीमियर लीग (Tamilnadu Premier League) से जुड़े खिलाड़ियों और अधिकारियों पर मैच फिक्सिंग में शामिल होने के आरोप लगने के बाद गावस्कर ने यह प्रतिक्रिया दी है. इस मामले में जांच चल रही है. ‘क्रिकबज’ वेबसाइट ने सुनील गावस्कर के हवाले से कहा, लालच ऐसी चीज है जिसमें शिक्षा, मार्गदर्शन, भ्रष्टाचार रोधी लोगों के साथ कितने भी सेमिनार कोई मदद नहीं करने वाले. लालच मानवीय चीज है. गावस्कर ने कथित तौर पर यह प्रतिक्रिया बेंगलुरु में एक कार्यक्रम के दौरान दी.

सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar) ने कहा, सर्वश्रेष्ठ समाज, सबसे विकसित समाज में भी अपराधी होते हैं. क्रिकेट में भी हमेशा ऐसे लोग रहेंगे जो लालच से प्रभावित हो जाएंगे. कोई न कोई कारण उन्हें कुछ करने के लिए बाध्य कर सकता है. मुझे नहीं लगता कि यह ऐसी चीज है जिसे आप पूरी तरह से नियंत्रित कर सकते हैं. इस पूर्व महान बल्लेबाज ने हालांकि कहा कि अब यह संभव नहीं है कि आप गलत काम करके बच निकलें.

भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar) ने कहा, मैं कल्पना कर सकता हूं कि कभी-कभी हालात को देखते हुए खिलाड़ी सोच सकता है कि मैं इससे बच निकलूंगा. लेकिन आप इससे बच नहीं सकते. क्योंकि टेलीविजन की कवरेज बहुत व्यापक है, प्रत्येक पहलू कवर होता है. कुछ गलत करने पर आपका भंडाफोड़ हो जाएगा. गावस्कर ने हालांकि टीएनपीएल जैसी घरेलू लीग का समर्थन करते हुए कहा कि इससे नई प्रतिभा सामने आती हैं.

-advertisement-

ट्रेंडिंग

खून की नदियां तो छोडि़ए कश्मीर में एक गोली भी नहीं चलानी पड़ी- अमित शाह

करतारपुर गलियारे पर अब पलटा पाकिस्तान

महंत नरेंद्र गिरि दोबारा चुने गए अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष

भिखारी की मौत के बाद झोपड़ी से निकले डेढ़ लाख के सिक्के और 8.7 लाख की एफडी

स्विस बैंक ने कालाधन रखने वालों की सूची सौंपी

भारतीय सेना का था खबरी, अब बना जैश का खूंखार आतंकवादी

ट्रंप के सामने PM मोदी ने पाकिस्तान पर किया अटैक

मप्र की राजनीति के जोकर हैं दिग्विजय : शिवराज

मुर्गी से नहीं पौधों से बने अंडे खाइए, टेस्ट में भी लाजावाब

कैब ड्राइवर ने नहीं रखा था कंडोम, ट्रैफिक पुलिस ने काट दिया भारी-भरकम चालान

भोपाल सहित 4 शहरों में अब इलेक्ट्रिक बसें चलेंगी

अमेरिकन आर्मी ने बजाई भारतीय राष्ट्रगान 'जन गण मन' की धुन

अब चंद्रयान-2 की 98 फीसदी सफलता पर उठने लगे सवाल